10 Hindi Poem for Kids -हिंदी में पोएम्स

Hindi Poem:Varnamala Geet Hindi Alphabet – वर्णमाला गीत हिंदी

अ से आनर, आ से आम
होते है सब मिलकर काम
इ से इमली,ई से ईख
अच्छी-अच्छी बातें सिख
उ से उल्लू, ऊ से ऊँट
एक-एक करके भर लो घूँट
ए से एड़ी,ऐ से ऐनक
भाग रहे दुश्मन के सैनिक
ओ से ओखली, औ से औज़ार
फले फूले सारा संसार
अं से अंगूर, अ: से खली
उतना खाओ जितनी थाली

Hindi Poem : Hathi Aaya Jhoom Ke-हाथी आया झूम के

हाथी आया हाथी आया
सूंड हिलाता हाथी आया
चलता फिरता हाथी आया
झूम झूम कर हाथी आया…
कान हिलाता हाथी आया
पूँछ घुमाता हाथी आया
केले खाता हाथी आया
झूम झूम कर हाथी आया…
हाथी आया हाथी आया
पानी उड़ाता हाथी आया
करतब दिखता हाथी आया
झूम झूम कर हाथी आया…
हाथी आया…हाथी आया
सबसे खेलने हाथी आया
सबका दिल बहलाने आया
झूम झूम कर हाथी आया…!

Hindi Poem: Chale Sair Ko Motu Ram- चले सैर क़ो मोटू राम

चले सैर को मोटूराम
देखा एक लटकता आम
झटपट चढ़ने लगे पेड़ पर
लड़ा ततैया गिरे धड़ाम
चले सैर को मोटूराम

Hindi Poem: Pani Barsa Chham Chham Chham-पानी बरसा छम छम छम

पानी बरसा छम छम छम
ऊपर छाता नीचे हम
छाता लेकर निकले हम
पैर फ़िसला गिर गए हम

Hindi Poem: Sardi Ka Suraj – सर्दी का सूरज

सुबह सुबह आ जाता सूरज
दंगा नहीं मचाता सूरज

ना आँधी ना धूल पसीना
सरदी में मनभाता सूरज

छतरी लगा बाग में बैठो
पिकनिक रोज़ मनाता सूरज

बर्गर हो या पिज़ा पेस्ट्री
सबके मज़े बढ़ाता सूरज

नरम दूब पर छाया रहता
यहाँ वहाँ इतराता सूरज

दिन भर मेरे साथ खेलता
शाम ढले घर जाता सूरज

Hindi Poem: Gubbare Wala – गुब्बारे वाला

गुब्बारे लो गुब्बारे…गुब्बारे लो गुब्बारे
गुब्बारे लो आया गुब्बारे वाला…
लाल, हरे, पीले,लाल हरे पीले, नीले
कितने रंग बिरंगे सारे लाया…

Hindi Poem: Do Chuhe The -दो चूहे थे

दो चूहे थे ,
मोटे -मोटे थे
छोटे छोटे थे ,
वो तो खा रहे थे
बिल्ली ने देखा बोली में भी आऊंगी
नाह मौसी ना तुम आओ
हमे मार डालोगे
पूँछ काट डालोगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे

दो चूहे थे ,
मोटे -मोटे थे
छोटे छोटे थे ,
दूध पी रहे थे
बिल्ली ने देखा बोली में भी आऊंगी
नाह मौसी ना तुम आओ
हमे मार डालोगे
पूँछ काट डालोगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे

दो चूहे थे ,
मोटे -मोटे थे
छोटे छोटे थे ,
वो तो तैर रहे थे
बिल्ली ने देखा बोली में भी आऊंगी
नाह मौसी ना तुम आओ
हमे मार डालोगे
पूँछ काट डालोगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे

दो चूहे थे ,
मोटे -मोटे थे
छोटे छोटे थे ,
वो तो उड़ रहे थे
बिल्ली ने देखा बोली में भी आऊंगी
नाह मौसी ना तुम आओ
हमे मार डालोगे
पूँछ काट डालोगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे
हम तो नहीं आएंगे, हम भाग जायेंगे

Hindi Poem: Billi Kali Pili -बिल्ली काली पीली

मेरी बिल्ली काली पीली, पानी में हो गयी गीली
मेरी बिल्ली काली पीली, पानी में हो गयी गीली

मेरी बिल्ली काली पीली, पानी में हो गयी गीली
गीली होकर लगी काँपने, अछुउ… अछुउ …अछुउ…

लगी छीकने, मेरी बिल्ली काली पीली
मैंने बोला कुछ तो सीख, बिना रुमाल के कभी ना छीक

अछुउ …अछुउ मुझे ठण्ड लग गयी
मेअवव ….मेअवव …

Hindi Poem: Chanda Hai Tu Mera Suraj Hai Tu -चंदा है तू मेरा सूरज है तू

चंदा है तू मेरा सूरज है तू , ओ मेरी आँखों का तारा है तू
चंदा है तू मेरा सूरज है तू , ओ मेरी आँखों का तारा है तू …

जीती हूँ मै बस तुझे देखकर, इस टूटे दिल का सहारा है तू
चंदा है तू मेरा सूरज है तू …

तू खेलें खेल कई मेरा खिलौना है तू
तू खेलें खेल कई मेरा खिलौना है तू …

जिससे बँधी हर आशा मेरी, मेरा वो सपना सलोना है तू
नन्हा सा है कितना सुन्दर है तू , छोटा सा है कितना प्यारा है तू
चंदा है तू मेरा सूरज है तू …

पुरवाई वन में उड़े, पंछी चमन में उड़े
पुरवाई वन में उड़े, पंछी चमन में उड़े …

राम करे कभी हो के बड़ा, तू बनके बादल गगन में उड़े
जो भी तुझे देखे वो ये कहे, किस मन का ऐसा दुलारा है तू …

चंदा है तू मेरा सूरज है तू , ओ मेरी आँखों का तारा है तू
जीती हूँ मै बस तुझे देखकर, इस टूटे दिल का सहारा है तू
चंदा है तू मेरा सूरज है तू …

Hindi Poem: Dhobi Ayaa Dhobi Ayaa – धोबी आया, धोबी आया

धोबी आया, धोबी आया
कपडे साफ़..कपडे साफ़
कितने कपडे लाया
एक, दो, तीन
चार, पाँच, छः
सात, आठ, नॊ
दस और बस

Hindi Poem: Chal Mere Ghode Tik Tik – चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक

चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक
चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक
रुकने का तू नाम ना लेना
चलना तेरा काम…

चलते-चलते उसके आगे आया एक पहाड़
राजा मन ही मन घबराया कैसे होगा पार
इतने में एक पंछी बोला अपने पंख उतार
पंख बने है ये हिम्मत के ले जा हो जा पार
पंख लगा के राजा ने घोड़े को एड लगाई
देने लगी हवाओं में फिर ये आवाज़ सुनाई

चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक
चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक
रुकने का तू नाम ना लेना
चलना तेरा काम…

लेकर राजा को एक वन में आया नीला घोड़ा
देख के एक चंचल हिरनी को
उसके पीछे दौड़ा
लेकिन पास जो पहुँचा तो देखो किस्मत की करनी
रूप में उस हिरानी के निकली एक जादूगरनी
तनक के जादूगरनी जो जादू का तीर छोड़ा
तोता बन कर रह गया राजा
पत्थर बन कर घोड़ा

चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक
चल मेरे घोड़े टिक टिक टिक
रुकने का तू नाम ना लेना
चलना तेरा काम…

Read Also : Best Top 10 Poems for kids in Hindi

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap